10/recent/ticker-posts

भारत में क्रिप्टोकरेंसी (Cryptocurrency) का स्टेटस व नए नियम

Cryptocurrency In India Legal | Cryptocurrency In India Hindi | Cryptocurrency In Hindi | Cryptocurrency In India App | Future Of Cryptocurrency In India | How To Invest In Cryptocurrency In India 2021 | Is It Safe To Invest In Cryptocurrency In India | Future Of Cryptocurrency In India 2021 | Cryptocurrency In Indian Economy | How To Buy Cryptocurrency In India

भारत तकनीकी दौड़ में विश्व पटल पर अपना नाम स्थापित कर रहा है। देश का धीरे-धीरे विकास प्रगति पर है। रोज नई नई टेक्नोलॉजी हम अपने रोजमर्रा की जिंदगी में इस्तेमाल करते हैं। सरकार की लगभग सभी सेवाएं तथा योजनाएं ऑनलाइन हो गई है। देश के नागरिक लेनदेन तथा भुगतान के लिए भी अब विभिन्न प्रकार के संसाधनों का प्रयोग करते हैं। आज के समय में आप और हम विभिन्न प्रकार के यूपीआई मोबाइल एप्लीकेशन के जरिए एक दूसरे को भुगतान करते हैं। इसके साथ-साथ विश्व बाजार से क्रिप्टोकरंसी / Cryptocurrency भी भारत में धीरे-धीरे अपने पांव पसार रही है।

तकनीक के विकसित होने के साथ-साथ भारत के नागरिक धीरे-धीरे विभिन्न प्रकार के संसाधनों से ऑनलाइन धन कमाने की विधि को सीख रहे हैं। हम अपने आज के लेख के जरिए आपको क्रिप्टो करेंसी / Crypto Currency से संबंधित पूरी जानकारी प्रदान कर रहे हैं। हम आपको क्रिप्टो करेंसी क्या है, भारत में क्रिप्टोकरेंसी / Cryptocurrency का स्टेटस तथा भारतीय अथवा विश्व बाजार में क्रिप्टो करेंसी का भविष्य क्या होगा आदि विषयों पर विस्तार पूर्वक जानकारी देंगे। शायद ही कोई देश का नागरिक होगा जिन्होंने क्रिप्टोकरंसी का नाम ना सुना हो।

    ★ इसे भी देखें ➣ भारतीय डिजिटल करेंसी CBDC क्रिप्टोकरेंसी ★

    क्रिप्टोकरंसी या डिजिटल करेंसी क्या है?

    What is Cryptocurrency or Digital Currency?

    cryptocurrency-status-in-india-crypto-currency-future-hindi

    Crypto Currency Ya Digital Mudra Kya Hai:- हाल ही में भारतीय बाजार में क्रिप्टोकरेंसी का काफी चलन दिखाई दे रहा है। यह एक प्रकार की आभासी मुद्रा यानी डिजिटल करंसी है। भारत देश के नागरिक धीरे-धीरे क्रिप्टो करेंसी के माध्यम से ट्रेडिंग करना सीख रहे हैं। यह क्रिप्टोकरंसी / Cryptocurrency भी शेयर बाजार की तरह ही है। 

    इसमें एक ही समय में करेंसी की कीमतों पर भारी उछाल तथा गिरावट देखी जा सकती है। हमारे देश के नागरिक इस डिजिटल क्रिप्टो करेंसी के लिए काफी खासी दिलचस्पी दिखा रहे हैं।

    इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि इस आभासी मुद्रा के जरिए पैसा लगाकर देश के नागरिक कम समय में अधिक धन प्राप्त कर सकते हैं। अर्थशास्त्रियों के मुताबिक क्रिप्टो करेंसी ही आने वाले भविष्य में वैश्विक बाजार यानी वर्ल्ड मार्केट में 2 देशों द्वारा आदान-प्रदान या आयात निर्यात आदि के लिए प्रयोग किया जा सकता है। 

    विश्व बाजार में उत्पादों की खरीद फरोख्त में धांधली तथा भ्रष्टाचारी को रोकने के लिए भी क्रिप्टो करेंसी भी भुगतान के लिए एक अच्छा उपाय है। यहां एक कंप्यूटर द्वारा बनाई गई मुद्रा है जिसे ऑनलाइन माइनिंग के जरिए एकत्रित किया जाता है।

    ★ इसे भी देखें ➣ तीन कृषि (संशोधन) बिल/कानून ★

    क्रिप्टोकरेंसी या वर्चुअल करेंसी कैसे बनती है?

    How to Make Cryptocurrency or Virtual Currency?

    Cryptocurrency Ya Virtual Currency Kaise Banti Hai:- ऑनलाइन माइनिंग से हमारा तात्पर्य यह है कि इसका उत्पादन कंप्यूटरों तथा बड़े-बड़े शहरों के जरिए किया जाता है। क्रिप्टोकरंसी का जन्म इंटरनेट के माध्यम से ही हुआ है। दुनिया की सबसे पहली क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन के सामने आने पर देश तथा दुनिया के करोड़ों लोगों ने इस में अपना निवेश किया था। बिटकॉइन की तरह ही आज के समय में कई प्रकार की क्रिप्टो करेंसी / Crypto Currency ऑनलाइन उपलब्ध हो गई है। 

    इस प्रकार की करंसी केवल डिजिटल रूप में होती है हार्ड कॉपी के रूप में नहीं। यानी आपको इसे एक जगह से दूसरी जगह ले जाने के लिए इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस तथा इंटरनेट की आवश्यकता होती है। हालांकि भारत की केंद्र सरकार तथा भारतीय रिजर्व बैंक ने आरबीआई द्वारा अभी तक क्रिप्टोकरंसी को एक माननीय मुद्रा के रूप में स्वीकार नहीं किया गया है। लेकिन हमारे देश के नागरिक क्रिप्टो करेंसी की ऑनलाइन विभिन्न प्रकार के मोबाइल ऐप के जरिए खरीद-फरोख्त कर रहे हैं। इस क्रिप्टोकरेंसी / Cryptocurrency के आदान-प्रदान से देश के नागरिकों को अच्छा खासा लाभ प्राप्त हो रहा है।

    ★ इसे भी देखें ➣  ★

    क्रिप्टो करेंसी या ऑनलाइन करेंसी के क्या लाभ है?

    What Are The Benefits of Crypto Currency or Online Currency?

    Crypto Currency Ya Online Currency Ke Kya Labh Hain:- अब तक ऊपर दी गई जानकारी को पढ़कर आप यह जान ही गए होंगे कि आखिरकार यह क्रिप्टो करेंसी या डिजिटल करंसी अथवा वर्चुअल करंसी है क्या। इस ऑनलाइन मुद्रा को इंटरनेट के जरिए ही खरीदा था था बेचा जा सकता है। यह करंसी अलग-अलग नेटवर्क के माध्यम से काम करती है तथा यह ब्लॉक चेन टेक्नोलॉजी पर निर्भर रहती है। 

    यह मुद्रा पूरी तरह से इंटरनेट पर निर्भर है। नीचे कुछ बिंदुओं के माध्यम से हम क्रिप्टो करेंसी के लाभ प्रदान कर रहे हैं। अगर आपको भी क्रिप्टोकरंसी में दिलचस्पी रखते हैं तो नीचे दी गई जानकारी को कृपया ध्यानपूर्वक पढ़ें।

    • क्रिप्टो करेंसी एक डिजिटल मुद्रा है जो पूरी तरह इंटरनेट पर निर्भर है।
    • इस मुद्रा के जरिए लेनदेन की प्रक्रिया आसानी से पूरी की जा सकती है।
    • ऑनलाइन करेंसी के जरिए भ्रष्टाचार तथा गड़बड़ी के कम आसार रहते हैं।
    • वर्चुअल करेंसी के जरिए लेनदेन की सभी प्रक्रियाओं में पारदर्शिता रहेगी।
    • यह डिजिटल करंसी पूरी तरह से ब्लॉक्स चैन टेक्नोलॉजी पर आधारित है।
    • उपभोक्ता अलग-अलग नेटवर्क का प्रयोग करके इस करेंसी से भुगतान कर सकते हैं।
    • हमारे देश में नागरिक क्रिप्टोकरंसी पर पैसा लगाकर अच्छी आमदनी प्राप्त कर रहे हैं।
    • डिजिटल मुद्रा क्रिप्टो करेंसी / Crypto Currency के जरिए भुगतान करने के लिए ऑनलाइन मार्केट में विभिन्न प्रकार के ऐप उपलब्ध हैं।
    • भविष्य में वर्ल्ड ट्रेड मार्केट यानी विश्व व्यापार बाजार में क्रिप्टो करेंसी के जरिए भुगतान आसानी से किया जाएगा।
    • कई देशों की सरकारों द्वारा क्रिप्टो करेंसी को एक वैध मुद्रा के रूप में घोषित पहले ही कर दिया गया है।
    • अभी फिलहाल हमारे देश में कुछ ही संस्थाएं तथा कंपनियां क्रिप्टो करेंसी के माध्यम से भुगतान स्वीकार कर रही हैं।
    • अमेरिका जैसे देशों में क्रिप्टो करेंसी / Cryptocurrency को कई संस्थानों द्वारा अवैध कर दिया गया है।
    • क्रिप्टो करेंसी भी शेयर मार्केट की तरह ही कार्य करती है।
    • रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यानी आरबीआई भी जल्द एक ऑनलाइन करेंसी यानी डिजिटल करेंसी लॉन्च करने वाला है।
    • भारत सरकार द्वारा लांच की जाने वाली सीबीडीसी यानी सेंट्रल बैंक डिजिटल करंसी भी क्रिप्टोकरंसी की तरह ही कार्य करेगी।

    साथियों, ऊपर दिए गए बिंदुओं के माध्यम से आप यह जान ही गए होंगे कि क्रिप्टोकरेंसी / Cryptocurrency ही हमारे देश का आने वाला भविष्य है। भविष्य में लेनदेन के लिए विश्व बाजार तथा घरेलू बाजार में क्रिप्टोकरंसी का चलन भी जल्द देखने को मिल सकता है।

    ★ इसे भी देखें ➣ एम्स ओपीडी अपॉइंटमेंट बुकिंग ★

    क्रिप्टो करेंसी डिजिटल मुद्रा के क्या नुकसान है?

    What Are The Disadvantages of Cryptocurrency Digital Currency?

    Cryptocurrency Digital Mudra Ke Kya Nuksan Hain:- इस मुद्रा के प्रयोग में लाभ के साथ-साथ कई प्रकार की हानियां भी हैं। क्रिप्टो करेंसी के इस्तेमाल से नागरिकों को वित्तीय नुकसान का सामना भी करना पड़ सकता है। यह मुद्रा भारतीय बाजार में धीरे-धीरे चलन में आ रही है।

    • हमारे लेख के इस भाग में हम आपको क्रिप्टोकरंसी के नुकसान तथा हानियों के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी प्रदान कर रहे हैं।
    • क्रिप्टोकरंसी का प्रयोग हमारे देश में अभी फिलहाल के लिए गैर कानूनी किया गया है।
    • भविष्य में भुगतान के लिए भारत की सरकार क्रिप्टोकरेंसी को एक मान्य मुद्रा के रूप में लेगी।
    • यह पूरी तरह से एक डिजिटल मुद्रा है जिसके इंटरनेट के माध्यम से हैकिंग कर के चोरी के अधिक आसार हो जाते हैं।
    • इस करेंसी की विनिमय दरों में भारी उछाल तथा गिरावट एक ही समय में देखी जा सकती है।
    • वर्चुअल मुद्रा यानी क्रिप्टोकरंसी के जरिए देश की सुरक्षा भी खतरे में पड़ सकती है क्योंकि इसके जरिए टेरर फंडिंग करना आसान हो जाता है।
    • इसके जरिए हवाले तथा कबूतरबाजी जैसे कामों के गैरकानूनी पैसे को इधर से उधर करना काफी आसान हो जाता है।
    • इस प्रकार की मुद्रा को हमारे देश की किसी भी आधिकारिक संस्था द्वारा ना तो लांच किया गया है और ना ही किसी सरकारी संस्थान द्वारा भी से मान्यता प्रदान की गई है।
    • इंटरनेट या डिजिटल क्रिप्टो करेंसी के जरिए गैर कानूनी कार्यों के धन को इधर से उधर करना काफी आसान हो जाता है।

    दोस्तों, ऊपर दी गई जानकारी के माध्यम से तो आप जान ही गए होंगे कि आखिरकार क्रिप्टोकरेंसी / Cryptocurrency के माध्यम से केवल लाभ ही नहीं बल्कि हानि भी हो सकती है। हम अपने सभी आगंतुकों को सलाह देना चाहेंगे कि इस मुद्रा के जरिए लेनदेन करने से पहले सभी शर्तों की अच्छी तरह जांच कर लें।

    ★ इसे भी देखें ➣ प्रधानमंत्री स्वास्थ्य आईडी कार्ड ★

    क्रिप्टोकरेंसी या ऑनलाइन मुद्रा कितने प्रकार की होती है?

    How Many Types of Crypto Currency or Online Currency are There?

    Crypto Currency Ya Online Currency Kitne Prakar Ki Hoti Hai:- क्रिप्टो यास डिजिटल करेंसी आज के समय में भारतीय बाजार में कई प्रकार की उपलब्ध है। जब इस मुद्रा की शुरुआत हुई थी तो केवल एक ही क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन के नाम से प्रचलित थी। लेकिन अब समय के साथ साथ कई वित्तीय संस्थाओं द्वारा नई-नई क्रिप्टोकरेंसी / Cryptocurrency को लॉन्च किया गया है।

    सबसे ज्यादा प्रसिद्ध होने वाली क्रिप्टो करेंसी बिटकॉइन ही है। बिटकॉइन को साल 2009 में लांच किया गया था। इसे संतोषी नाकामोटो कंपनी द्वारा विश्व बाजार में उतारा गया था। इस समय भारतीय बाजार में जो क्रिप्टो करेंसी चलन में है उनके नाम नीचे दिए गए हैं।

    • लाइटकॉइन
    • पीरकॉइन
    • डॉजकॉइन
    • नेमकोइन
    • रिप्पल
    • टीथर
    • मोनेरो
    • कॉसमॉस
    • बिट टोरंट
    • इथेरियम

    इसके अलावा भी कई प्रकार की ऑनलाइन डिजिटल करेंसी इस समय भारतीय बाजार में उपलब्ध है। गूगल प्ले स्टोर को पर विभिन्न प्रकार के मोबाइल ऐप के जरिए इन क्रिप्टोकरंसी की खरीद-फरोख्त की जा सकती है। एक अनुमान के अनुसार निकट भविष्य में हार्ड कॉपी मुद्रा के समान ही डिजिटल कॉपी का प्रयोग विभिन्न सेवाओं का लाभ लेने के लिए किया जा सकता है।

    ★ इसे भी देखें ➣ PM सौर ऊर्जा पम्प सब्सिडी ★

    भारत में ऑनलाइन करेंसी क्रिप्टोकरेंसी का स्टेटस क्या है?

    What Is The Status of Cryptocurrency Online Currency In India?

    Bharat Me Crypto Currency Online Mudra Ka Kya Status Hai:- भारत देश के नागरिक धीरे-धीरे यह ऑनलाइन करेंसी के बारे में सीख रहे हैं। भारतीय बाजार में धीरे-धीरे यह मुद्रा चलन में आ रही है। इस क्रिप्टो करेंसी का भारतीय बाजार में स्टेटस अभी क्या है तथा भविष्य क्या होगा इसकी जानकारी हम नीचे बिंदुओं के माध्यम से प्रदान कर रहे हैं।

    • अभी हमारे देश में क्रिप्टोकरंसी का चलन केवल शुरू हो रहा है। यह मुद्रा हमारे देश में अभी इतनी प्रचलित नहीं है।
    • भारत देश के नागरिक धीरे-धीरे क्रिप्टोकरेंसी / Cryptocurrency के माध्यम से ट्रेडिंग करना सीख रहे हैं।
    • आपको बताते चलें कि लोकसभा में पेश किए गए एक बिल में भारत सरकार द्वारा डॉज कॉइन तथा बिटकॉइन को प्रतिबंधित घोषित किया गया है।
    • हमारे देश के नागरिक अभी असमंजस में हैं कि क्रिप्टोकरंसी के जरिए लेनदेन किया जाए या नहीं।
    • भारत में क्रिप्टोकरंसी का स्टेटस अगर देखा जाए तो अभी घरेलू बाजार में धीरे-धीरे यह शुरू हो रहा है।
    • हालांकि भारत सरकार द्वारा अभी सभी प्रकार के क्रिप्टोकरंसी पर प्रतिबंध नहीं लगाया गया है।
    • सरकार की क्रिप्टोकरंसी के लिए मंशा कुछ साफ नहीं दिख रही है। कुछ कॉइन को सरकार द्वारा बैन तो किया गया है लेकिन अभी घरेलू बाजार में कुछ कॉइन प्रचलन में है।
    • भारत सरकार द्वारा डोज कॉइन तथा बिटकॉइन को कुछ समय के बाद प्रतिबंधित सूची से हटा दिया गया। सरकार द्वारा यह निर्णय अभी नहीं लिया गया है कि क्रिप्टोकरंसी को घरेलू मार्केट में मान्यता दी जाए या नहीं।
    • वैसे अगर देखा जाए तो अगर भारत की सरकार क्रिप्टो करेंसी / Crypto Currency के जरिए विश्व बाजार में ट्रेडिंग करती है तो उससे हमारी अर्थव्यवस्था को काफी लाभ होगा।
    • अर्थशास्त्रियों के अनुसार भारत में पूरी तरह से क्रिप्टोकरंसी के जरिए घरेलू बाजार में लेनदेन संभव नहीं है।
    • उपरोक्त बयान के पीछे अर्थशास्त्रियों द्वारा यह तर्क दिया गया है कि क्रिप्टोकरंसी पूरी तरह से सुरक्षित नहीं है।

    ★ इसे भी देखें ➣ आधार कार्ड से बैंक बैलेंस ★

    क्रिप्टोकरंसी के लिए सरकार का क्या रुख है?

    What Is The Government's Stance on Cryptocurrencies?

    Cryptocurrencies Ke Liye Sarakar Ka Kya Rukh Hai:- ऑनलाइन यानी डिजिटल ट्रेडिंग के जरिए क्रिप्टोकरेंसी भारत में धीरे धीरे सुर्खियों में आ रही है। निकट भविष्य में हम यहां अंदाजा लगा सकते हैं कि इस मुद्रा के जरिए घरेलू तथा विश्व बाजार में भारत काफी लाभ प्राप्त कर सकता है। इसके माध्यम से भारतीय अर्थव्यवस्था की गति को तेज करने के लिए प्रयास किए जा सकते हैं। 

    इस के प्रसिद्धता को देखते हुए भारतीय सरकार को एक अलग बॉडी स्थापित करनी चाहिए। सरकार को क्रिप्टो करेंसी से संबंधित लेनदेन पर निगरानी रखने के लिए एक अलग विभाग जरूर स्थापित करना चाहिए। इस विभाग का कार्य सिर्फ यही रखा जाए कि देश में हो रही क्रिप्टोकरंसी की ट्रेडिंग के जरिए खरीद फरोख्त का पता लगाया जा सके। कई देशों में बड़ी-बड़ी तथा जाने-माने कंपनियों में खरीद-फरोख्त के लिए क्रिप्टोकरेंसी / Cryptocurrency शुरू कर दी गई है।

    इस डिजिटल मुद्रा के लिए भारत की जनता अभी असमंजस की स्थिति में फंसी हुई है। ना तो हमारे देश में बुरी तरह से क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध लगाया गया है और ना ही इसे माननीय घोषित किया गया है। इस चलन के शुरू होते ही इसने पूरे विश्व में अच्छी खासी लोकप्रियता हासिल की। वजीरएक्स नामक एक क्रिप्टो करेंसी ट्रेडिंग मोबाइल एप्लीकेशन के निर्माता ने कहा कि अभी देश में इस मुद्रा को लेकर काफी उलझन तथा असमंजस का माहौल है। अभी इसके भविष्य के बारे में भविष्यवाणी करना गलत होगा। हमारे देश में कोई भी अभी आधिकारिक तौर पर रेगुलेटरी बॉडी की स्थापना नहीं की गई है।

    सरकार अगर देश की अर्थव्यवस्था को तेजी से बढ़ाना चाहती है तो उसको एक आधिकारिक संस्था का गठन करके इस मुद्रा की लेनदेन की देखरेख का पूरा जिम्मा दिया जाना चाहिए। हालांकि हमारे देश में कई ऐसे उत्पाद हैं जिन पर पूरी तरह से ना तो प्रतिबंध लगाया गया है और ना ही उसे मान्य घोषित किया गया है। आज के समय में भारतीय ऑनलाइन बाजार में विभिन्न प्रकार के ऐसे उत्पाद उपलब्ध हैं जिनकी वजह से भ्रष्टाचार तथा कालाबाजारी पर नकेल कस पाना पूरी तरह से संभव नहीं है। अगर कानूनों तथा नियमों में थोड़े बदलाव करके इस पर मुद्रा को मान्य घोषित कर दिया जाए तो देश के विकास में काफी गति आएगी।

    भारत में क्रिप्टोकरेंसी / Cryptocurrency की स्थिति के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए आप केंद्र सरकार के अधीन वित्त मंत्रालय द्वारा जारी किए गए ड्राफ्ट बिल को नीचे दिए लिंक के माध्यम से पढ़ सकते हैं। आप प्रेस ब्यूरो ऑफ इंडिया यानी पीआईबी की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन देख सकते हैं तथा डाउनलोड भी कर सकते हैं।

    Banning of Cryptocurrency & Regulation of Official Digital Currency Bill, 2019

    ★ इसे भी देखें ➣ MP रोजगार सेतु पोर्टल ★

    हमसे संपर्क करें (Contact Us)

    कृपया इस जानकारी को अवश्य ही शेयर करें ताकि अधिक-से-अधिक लोगों को इस जानकारी का लाभ प्राप्त हो सके। यदि आपका कोई प्रश्न है तो हमसे नीचे कमेंट बॉक्स में अवश्य पूछें।

    सभी राज्यों व केंद्र सरकार की योजनाओं व प्रक्रियाओं की जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट पर आते रहें। हमारी वेबसाइट को बुकमार्क करना न भूलें।

    HindiProcess.Com पर आने का धन्यवाद्।

    Post a Comment

    0 Comments