10/recent/ticker-posts

उद्योग आधार ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन, सत्यापन व दस्तावेज | MSME Udyog Aadhar Online Registration, Verification & Documents

udyogaadhaar.gov.in Udyog Aadhar Online Registration, Verification, Required Documents & Eligibility Criteria in Hindi -: हम सभी कभी न कभी अपनी जिंदगी में एक मुकाम जरूर हासिल करना चाहते हैं जिसके लिए हम तरह तरह की कोशिश में लग जातें है। लोग ज्यादातर अपना खुद का व्यवसाय खोलना चाहते हैं, ताकि वह से व्यवसाय को बुलंदियों तक ले जा सकें। लेकिन हमे एक चीज का हमेशा डर लगा रहता है, कि कहीं कोर्ट कचहरी के दल-दल फस न जाएं। 

सरकार बड़ी कम्पनियों या उद्योगों को तो अनुमति दे देती है और उन्हीं पर ज्यादा ध्यान देती थी, क्योंकि सरकार को उसमे ज्यादा फायदा होता है। लेकिन जो हमारे छोटे या मध्यम वर्गीय उद्योगी होते है उन्हें परमिशन लेना ही नहीं आता है क्योंकि उन्हें पता हो नहीं होता है कि परमिशन लेते कैसे है। इस लेख के माध्यम से हम आपको उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन (Udyog Aadhar Registration) की पूरी प्रक्रिया बता रहे हैं। उद्योग आधार पंजीकरण (Udyog Aadhar Panjikaran) के बाद आप आसानी से अपना कोई भी व्यवसाय खोल सकते हैं।

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन क्या है?

Udyog Aadhar Online Registration and Verification
Udyog Aadhar Online Registration and Verification

What is udyogaadhaar.gov.in Udyog Aadhar Registration:- जैसा कि हम  जानते है कि आम नागरिक के लिए उसके उद्योग के रजिस्ट्रशन में कितना दिमाग लगाना पड़ता है, क्योंकि हमारे देश की प्रणाली बहुत कठिन है। इसमें आम नागरिक फंस ही जाता है। ऐसे में वह अपने रजिस्ट्रशन नहीं करवा पातें है। जिसके कारण उन्हें डर लगा रहता है कि कहीं में कानूनी प्रक्रियाओं में न फंस जाएँ। सरकार हार क्षेत्र में काम कर रही है और धीरे-धीरे सरकार ने इस समस्या को समझा और उन्होंने लघु, सूक्ष्म और मध्यम वर्गीय उद्योगों (Micro, Small and Medium Enterprises / MSME) को प्रोत्साहन देने के लिए उनके लिए एक सरल प्रक्रिया की शुरुआत की जिसका नाम “उद्योग आधार / Udhyog Adhaar” प्रक्रिया। यह एक तरह से आपको अपने लघु उद्योग चलाने के लिए लाइसेंस मिल जाता है।

इसमें आपको किसी भी तरह से एक रुपए तक नहीं देना होगा और नहीं आपको किसी दलाल की जरूरत पड़ेगी। यह एक ऑनलाइन तरीका है जो बिलकुल आपके लिए एक वरदान की भांति काम करेगा। इसके साथ ही यह सरकार का एक बहुत बढ़िया कदम था, जिससे छोटे उद्योगियों को उभरने का एक बेहतरीन मौका मिलेगा। हमारी इस पोस्ट के साथ बने रहिये और इस पोस्ट को उतना हो ध्यान से पढ़िए, अगर आप भी अपने उद्योग को आगे की ऊंचाइयों तक ले जाना चाहते हो। आइये जानते है उद्योग आधार के विभिन्न पहलुओं को जो आपके लिए जरूरी हैं।

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन के उद्देश्य:

Main Key Objectives of udyogaadhaar.gov.in Udyog Aadhar Free Registration:- यदि आप भी अपना व्यवसाय खोलना चाहते हैं तो आपको पहले उद्योग आधार के अंतर्गत अपना फ्री पंजीकरण करवाना होगा। उद्योग आधार ऑनलाइन फ्री रजिस्ट्रेशन शुरू करने के पीछे केंद्र सरकार के निम्नलिखित उद्देश्य हैं।

  • उद्योग आधार का पहला फायदा है कि इसमें उद्योगों का पंजीकरण / Udyam Aadhar Registration बिलकुल सरल कर दिया गया है। पहले पंजीकरण की प्रक्रिया बहुत मुश्किल थी, जिसमे हर कोई व्यक्ति फसना नहीं चाहता था। इस तरह छोटे और मध्यम वर्गीय उद्योग वाले पंजीकरण की कानूनी प्रक्रियाओं से दूर भागते थे। इस तरह वह अपना उद्योग ही नहीं खोल पाते थे, जो कि भारत की आर्थिक स्थिति के लिए नुकसानदायक है। अब वह अपना पंजीकरण बिलकुल सरल तरीके से करा सकते है।
  • जैसा कि हम जानते है कि बहुत से लोग पढ़ने में अच्छे नहीं होते है लेकिन उन्हें व्यपार की पूरी समझ होती है। वह एक उद्योग खोला चाहते है लेकिन खोल नहीं पाते है। अगर वह अपना उद्योग खोलने में कामयाब हो जाते हैं, तो वह और भी लोगों को रोजगार उपलब्ध करा सकता हैं। लेकिन वह नहीं कर पात है तो खुद के साथ अन्य लोगों को भी रोजगार नहीं मिलेगा। इसलिए इसका एक यह फायदा है कि लोगों को रोजगार भी उपलब्ध होगा।
  • हम अपने छोटे उद्योग से बड़ी कंपिनयों को भी टक्कर दे सकते है। जब बाजार में प्रतिस्पर्धा होगी तो लोगों को अच्छी क़्वालिटी का सामान मिलेगा और भारत की अर्थव्यवस्था को भी फायदा होगा। जब किसी एक उद्योग का राज होता है तो वह अपनी मनमानी कीमत पर अपने सामान को बेचता है। अगर कोई दूसरा उद्योग आ जाता है, तो दोनों में अपने सामान को बेचने की प्रतिस्पर्धा के कारण सामान की कीमत कम हो जाती है। तो इसका तीसरा फायदा है कि ग्राहक को कम कीमत पर अच्छा सामान मिल जाता है।
  • बहुत से लोग अपने उद्योग का पंजीकरण नहीं करवाते है और चुपचाप अपने उद्योग को चलाने की कोशिश करते है। इससे सरकार को टैक्स भी नहीं मिल पाता है. पर उद्योग का मालिक भी डर-डर के उद्योग को चलाता है। पंजीकरण की प्रक्रिया को आसान करने से वह अपने उद्योग का रजिस्ट्रेशन में करवाएगा और सरकार को टैक्स भी मिलेगा। इसका चौथा फायदा है कि सरकार को टैक्स मिलने से वह जनकल्याण के काम भी करा सकती है।

उद्योग आधार पंजीकरण लाभ:

Main Key Benefits of udyogaadhaar.gov.in Udyog Aadhar Registration & Verification:- अगर आप भी उद्योग आधार पंजीकरण व सत्यापन करवाते हैं तो आपको आपके व्यापर हेतु काफी लाभ मिलते हैं। कुछ लाभों की चर्चा हम नीचे अनुभाग में कर रहे हैं। कृपया सभी बिंदुओं को ध्यानपूर्वक पढ़ें।

  • आप घर बैठे उद्योग आधार पंजीकरण की प्रक्रिया को पूरा कर सकते हैं। इसमें आपको कहीं भी जाने की जरूरत नहीं है। यह बिलकुल सुरक्षित है।
  • ज्यादातर हमे सरकारी कामों के लिए कार्यालय में जाना पड़ता है लेकिन आपको उद्योग आधार पंजीकरण की प्रक्रिया को पूरा करने के लिए ऑनलाइन सुविधा दी जा रही है जिसका आप जरूर लाभ लें।
  • अब में आपको एक चीज और बता दूँ कि आप अपने रजिस्ट्रशन फॉर्म से बैंक में चालू खाता खुलवा सकते है। इस खाते यह फायदा है कि आप  खाते की मदद से लोन भी ले सकते हैं।
  • इसके साथ ही आपको लोन लेते समय किसी भी प्रकार के दस्तावेजों को जमा नहीं करना पड़ेगा। इसमें आपको नाहीं किसी तीसरे एजेंट की मदद लेनी पड़ेगी।
  • उद्योग आधार पंजीकरण का तीसरा फायदा है कि आपको सरकार की तरफ से सब्सिडी भी मिलेगी। इसमें पंजीकरण होने वाले सभी उद्योगों के लिए ही यह सुविधा उपलब्ध है। इससे आपको अपने उद्योग को आगे बढ़ाने में एक नई दिशा मिलेगी।

उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन दास्तावेज:

List of Necessary Documents for udyogaadhaar.gov.in Udyog Aadhar Panjikaran  & Satyapan:- अगर आप भी उद्योग आधार ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन (Udyog Aadhar Online Registration) करना चाहते हैं तो आपको पहले कुछ दस्तावेज लाने होंगें। पंजीकरण के लिए आवश्यक दस्तावेजों की सूची नीचे प्रदान की गई है। कृपया सभी आवश्यक दस्तावेजों की सूची को ध्यानपूर्वक पढ़ें तथा उसके बाद ही ऑनलाइन उद्योग आधार रजिस्ट्रेशन (Online Udyog Aadhar Registration) करें।

आधार कार्ड:

  • उद्योग आधार पंजीकरण के लिए आपके पास आधार कार्ड होना जरूरी है।
  • इस पंजीकरण में आपको एक भारतीय नागरिक दिखने के लिए आधार कार्ड को दिखाना पड़ेगा।
  • आपके आधार कार्ड के साथ आपका मोबाइल नंबर भी जुड़ा होना चाहिए ताकि सामान्य प्रक्रिया में दिक्कत का सामना न करना पड़े।

निवास प्रमाण पत्र:

  • आपको आधार कार्ड के साथ निवास प्रमाण पत्र भी देना होगा।
  • इसके साथ ही जहाँ आप अपना उद्योग को खोला चाहते हो वहाँ का भी पता देना होगा।

जाति प्रमाण पत्र:

  • अगर सामान्य वर्ग से नहीं तो आपको अपनी जाति प्रमाण पत्र भी देना होगा।
  • इसका यह फायदा होगा कि आपको सरकार की  से आपको कुछ और भी सुविधाएं दी जाएँगी।

बैंक खाता:

  • आपके पास बैंक खाता होना चाहिए ताकि सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी की रकम को सीधे आपके खाते में बिना किसी रूकावट के आप तक पहुंचाई जा सके।
  • बैंक खाते के जरिये आपको अपने उद्योग हेतु लोन / ऋण लेने में भी सहायता मिलेगी।

ऑनलाइन उद्योग आधार पंजीकरण

Procedure for Online Udyog Aadhar Registration & Verification:- अपने इतना सब पढ़ लिया है तो हम आशा करते है कि आपको सब कुछ समझ आ गया होगा। अब हम आते है उद्योग आधार पंजीकरण की प्रक्रिया पर जो बहुत हो हो जाएगी अगर आप मेरे द्वारा बताये गए निर्देशों को ध्यान से फॉलो करें।

  • उद्योग आधार पंजीकरण करने के लिए आपको “उद्यम रजिस्ट्रेशन फॉर्म / UDYAM REGISTRATION FORM” पर आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से जाना होगा। वेबसाइट पर जाने के लिए आपको यहाँ क्लिक करना है।
  • आपको सामने वेबसाइट का पेज खुल जायगा जिसमे आपको दो बॉक्स दिखाई दे रहे होंगे। उसमे आपको अपने “आधार कार्ड का नंबर / Aadhaar Card Number” डालना होगा और अपना व्यवसाय और “व्यवसाय के मालिक / Owner Name” का नाम लिखना होगा।
  • फिर “जेनेरेट ओटीपी / Generate OTP” विकल्प पर क्लिक करना होगा। इस विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके आधार कार्ड वाले मोबाइल नंबर पर ओटीपी आ जायेगा।
  • आपके मेसेज में आपका ओटीपी आ जायेगा जिसे आपको दिए हुए स्थान पर दर्ज देना है। ओटीपी डालते ही आपके सामने नया पेज खुल जायगा जिसमें आपको पहले अपनी “कैटेगरी / Category” को सलेक्ट करना है।
  • यदि आप सामान्य वर्ग से नहीं हो तो आपको जाति प्रमाण पत्र देना होगा। फिर आपको अपने “उद्योग या व्यवसाय / Udyam Name” का नाम लिखना होगा।
  • इसके बाद ध्यान से ओर्गेंनिज़शन की केटेगरी को चुनें। अगर आपका पहले से ही कोई उद्योग है तो उसकी जानकारी भी देनी होगी।आपको इसके बाद अपने पेन की जानकारी को डालना होगा।
  • फिर आपको अपने उद्योग का पता और अपना मोबाइल नंबर देना होगा। इसके साथ अपने जिस तारीख को अपना उद्योग शुरू किया वह तारीख को लिखे।
  • इसके बाद आपको अपने बैंक की जानकारी को भरें और आप किस तरह का उद्योग चलाना चाहते हो वही उद्योग को सलेक्ट करें।
  • फिर आपको सिर्फ कुछ अन्य जानकारी को भरना होगा। फिर अपनी उद्योग आधार एनरोलमेंट रसीद को प्राप्त करें।

उद्योग आधार पंजीकरण हेल्पलाइन:

Helpline for Udyog Aadhar Registration & Verification:- यदि आपको उद्यम / उद्योग आधार पंजीकरण या सत्यापन (Udyam / Udyog Aadhar Registration & Verification OR Udyam / Udyog Aadhar Panjikaran & Satyapan) करने में किसी प्रकार की मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है तो आप विभागीय अधिकारीयों से संपर्क कर सकते हैं। आप नीचे दिए गए संपर्क विवरण के माध्यम द्वारा अधिकारीयों से अपने प्रश्न पूछ सकते हैं।

  • कार्यालय का पता: सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय, उद्योग भवन, रफी मार्ग, नई दिल्ली – 110011
  • आधिकारिक ईमेल: ua-msme@gov.in
  • सुझाव / शिकायत: यहाँ क्लिक करें
  • आधिकारिक वेबसाइट: udyamregistration.gov.in

कृपया इस जानकारी को अवश्य ही शेयर करें ताकि अधिक-से-अधिक लोगों को इस जानकारी का लाभ प्राप्त हो सके। यदि आपका कोई प्रश्न है तो हमसे नीचे कमेंट बॉक्स में अवश्य पूछें।

सभी राज्यों व केंद्र सरकार की योजनाओं व प्रक्रियाओं की जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट पर आते रहें। हमारी वेबसाइट को बुकमार्क करना न भूलें।

HindiProcess.Com पर आने का धन्यवाद्।

Post a Comment

2 Comments

  1. Pradeep Rawat10/15/20, 10:16 AM

    Sir, mene parchun ki shop kholi hai, uska bhi registration karna padta hai kya?

    ReplyDelete
    Replies
    1. haan sir aapko gst ke liye registration to karna hi hoga. agar aap company ke rop me chalana chahate hain registration jarur karen.

      Delete

हमारी वेबसाइट HindiProcess.Com पर कमेंट हेतु धन्यवाद्। हमारी टीम जल्द ही आपकी आपकी समस्या का समाधान करने का प्रयास करेगी।